OTP क्या होता है? OTP की सारी जानकारी हिन्दी में

आज की Online दुनिया में सुरक्षा बहुत जरूरी है। और इस सुरक्षा को बनाने के लिए एक बहुत ही मशहूर तरीके का इस्तेमाल आज की इस online दुनिया में किया जा रहा है। उस सुरक्षित तरीके का नाम है OTP यानि की One Time Password.

आज के ज़माने में OTP बहुत ही जरूरी और महत्वपूर्ण हो गया है। ये कहा जा सकता है की OTP एक सुरक्षा कवच की तरह हो गया है जो की online होने वाले scam, और cyber अपराधों को रोकने में काफी मदद करता है। आइए सबसे पहले हम जानते हैं की OTP का मतलब क्या होता है?

OTP क्या होता है

OTP यानि One Time Password का मतलब है एक ऐसा password जिसे सिर्फ एक ही बार इस्तेमाल किया जा सकता है। OTP system द्वारा generate किया जाता है और यह password 10 second से लेकर 30 minute तक मान्य रहता है जिसके बाद यह अमान्य हो जाता है। OTP कई verification कार्यों के लिए इस्तेमाल किया जाता है और OTP की मदद से यूजर और संस्था दोनों ही एक दूसरे की आसानी से जांच कर सकते हैं।

OTP के प्रकार

Types of OTP

OTP 3 प्रकार के होते हैं।

  1. Text OTP – ज्यादातर companies text OTP का इस्तेमाल करती हैं। क्योंकि text OTP का तरीका, verification का सबसे पहला तरीका है। Text के जरिए OTP send करके verification करना सबसे पहला तरीका था जिसे verification के लिए use किया जाता है और ये तरीका बहुत ही लोकप्रिय भी है।
  2. Voice Calling OTP – OTP के इस तरीके में voice calling के through आपको OTP बताया जाता है। इसमें आपके पास एक call आती है और आपको एक OTP बताया जाता है। आपको उस OTP को verification के लिए enter करना होता है और फिर आपकी verification हो जाती है।
  3. Email OTP – Online की इस दुनिया में आज OTP से verification करने का एक और नया तरीका भी जुड़ गया है और वो है email के through OTP प्राप्त करना। इस तरीके में आपको अपने mobile number की जगह अपना email address डालना होता है और उसके बाद आपकी email पर एक OTP आता है जिससे आपको verification करना होता है।

OTP का इस्तेमाल कहाँ किया जाता है

OTP का इस्तेमाल करके आप online shopping या online account verification जैसे काम कर सकते हैं। जैसे, आप online shopping करते time अपने credit/debit card का use करते हैं तो आपका bank verify करने के लिए की आप ही अपने card का use कर रहे हैं आपके registered mobile number पर एक password send करता है जिसे one time password या OTP कहते हैं।

जब आप आपके bank द्वारा send किये गए OTP को verification के लिए payment page पर enter करते हैं तो bank ये verify कर लेता है की आप ही अपने bank account से payment करना चाहते हैं और इससे बैंक ये पहचान जाता है की आपका account कोई और access नहीं कर रहा है।

आज के समय मे OTP का इस्तेमाल कई जगह किया जाता है जैसे:

  1. Shopping करते समय payment verification में।
  2. Social media या अन्य account बनाते समय phone number या email verify करने के लिए।
  3. Bank खाते से पैसे निकालने या भेजने के लिए।

OTP के फायदे

  1. Fast – OTP बहुत ही fast होता है और इसलिए OTP से user की verification seconds में हो जाती है।
  2. Double Security – OTP की सहायता से हम अपने किसी भी social media या अन्य accounts (Facebook, WhatsApp, Instagram, आदि) पर 2 step verification को enable कर सकते हैं ताकि वो account और भी ज्यादा सुरक्षित हो जाए ताकि कोई भी अन्य व्यक्ति उसे access ना कर सके।
  3. Spamming से बचाव – OTP user को spamming या फिर cyber crime से भी बचाता है। जैसे – जब हम अपने bank account से online लेन-देन करते है तो bank, bank account के मालिक के registered phone number पर एक OTP भेजता है ताकि bank ये verify कर सके की bank account का मालिक ही अपने खाते से transaction कर रहा है।

OTP से जुड़े सवाल

OTP का Full Form क्या होता है?

OTP की full form होती है One Time Password और इसका मतलब होता है ऐसा password जो की केवल एक ही बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

OTP कितने अंकों का होता है?

OTP 4 या 6 अंकों का ही होता है और इससे ज्यादा अंकों का OTP नहीं होता है।

OTP ना आए तो क्या करें?

अगर आप कहीं account बना रहें हैं या कोई transaction कर रहे हैं और आपके पास OTP नहीं आया तो ऐसे में आप उस website या app पर मौजूद resend OTP पर click कर सकते हैं जिससे system आपके पास दुबारा नया OTP send करेगा। कभी-कभी server या network की दिक्कत के कारण OTP नहीं आता है लेकिन resend OTP करने से OTP आ जाता है।

OTP की समय सीमा कितनी होती है?

वैसे तो हर एक platform, website या app के OTP की समय सीमा अलग-अलग होती है लेकिन OTP की समय सीमा 10 second से लेकर 30 minute तक होती है इसके बाद कोई भी OTP अमान्य हो जाता है।

OTP से क्या होता है?

OTP से service provider ये confirm करता है की service का इस्तेमाल उसका consumer/customer ही कर रहा है या कोई और। OTP से service provider ये सुनिश्चित कर लेता है की service का इस्तेमाल मेरा customer ही करे जिसे मुझे pay किया है या जो मेरा customer है और कोई अन्य व्यक्ति उसके account या service का लाभ नया उठा सके।

ये भी पढ़ें:

निष्कर्ष

OTP की सुविधा इसलिए दी गयी है ताकि लोगों का data सुरक्षित रहे। OTP Cyber अपराध से बचने का एक अच्छा तरीका है। हमे उम्मीद है की अब आप समझ गए होंगे की OTP क्या होता है और ये क्यों जरूरी है। अपने दोस्तों के साथ इस article को share जरूर करें ताकि वो भी OTP के बारे में सब कुछ जान सकें। अगर आप हमसे कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो नीचे comment करें और ऐसे ही article पढ़ते रहने के लिए हमारी website से जुड़े रहें।

Leave a Comment

Share via
Copy link